帖子

reiki - 我的经历

Reiki我学会了4年的灵气。我对Reiki的看法可能会对那些认为这是商业机会的人来说可能会劝阻。在印度,很多人仍然不’知道Reiki。有一种相同的声音rekee,这意味着弄清楚每种可能的方式,从您安全地进入和退出您到达robe的地方。所以,如果你想谈论Reiki,主要是人们认为它是雷克。对于教导我的能量以及它的工作方式,我的进步非常令人印象深刻。我开始送遥远的治疗,找到了良好的结果…我开始了一个Facebook集团,在那里我发送日常治疗的特定体育比分结果,我也习惯于在许多其他Facebook群组和页面上发送治疗。但所有这些都无法满足我…有些事情有些东西有用..教你在这里的大师不会透露太多关于灵气…他们使它超级保密  就像你知道你可能会伤害世界或他。它’不是关于我的第一个掌握它关于我最后的主人,谁答应了我给予大层面

श्री युक्तेश्वर जी के प्रेरणाप्रद वाक्य

Image
 श्री युक्तेश्वर जी , श्री परमहंस योगानंद जी के गुरु थे | बंगाल के शेरम्पोर नाम के नाम के स्थान पर इनका आश्रम था | श्री परमहंस योगानंद जी ने अपने गुरु के आश्रम में कई वर्ष बिताए | श्री युक्तेश्वर जी लाहिड़ी महाशय के शिष्य थे | श्री युक्तेश्वर जी का जन्म 10 मई 1855 में हुआ था | युक्तेश्वर का अर्थ है - ईश्वर से युक्त  |        आप आर्थिक रूप से स्वतंत्र रहते थे अर्थात अपने योग-क्षेम  स्वयं वहन करते थे | आप अपने शिष्यों को या सुनने वालों से दान आदि नहीं लेते थे | इनका एक मात्र उद्देश्य  ईश्वर के साथ-साथ रहना और अपने शिष्यों को ईश्वर के साथ-साथ एकमेव कैसे हुआ जाए यह सिखाना था इनके कुछ प्रेरणास्पद वाक्य नीचे दिए जा रहे हैं ……...   युक्तेश्वर का अर्थ है - ईश्वर से युक्त  |   योगानंद जी ने अपने गुरु के बारे में कहा है - “करुणा के संबंध में कुसुम से भी कोमल, सिद्धांतों के दांव  लगने पर वज्र से भी कठोर”                श्री युक्तेश्वर जी का पारिवारिक नाम प्रकाशनाथ करार था यह अपने शिष्यों को लेकर बहुत ही कठोर रहते थे |

साहस यह है - 在印地语中勇敢

Image
  साहसी होने का यह मतलब नहीं कि हम दूसरों से जीत गए |       किसी घटना चक्र में हमारी विजय हुई , किसी को हमने घुटने टेकने में मजबूर कर दिया या अपनी इच्छा को उस से कार्यान्वित करवाने में   सफल हुए यह साहसका होना कतई नहीं है | वास्तव में अपनी इच्छा किसी दूसरे द्वारा कार्यान्वित कराने में हम सफल नहीं होते बल्कि पराजित होते हैं ,यह प्रमाण होता है कि अपनी इच्छा को स्वयं कार्यान्वित करने में हम सक्षम नहीं थे इसलिए हमें दूसरों पर आश्रित होना पड़ा | एक प्रकार से उक्त इच्छा के लिए हमने दूसरों की दासता स्वीकार करी |  साहसी होने  का अर्थ होता है कि हमने अपने कार्य में आने वाली बाधा को स्वयं आगे बढ़कर रोका |         साहसी होने का अर्थ यह है कि हम अपने आंतरिक युद्ध(ना कि बाहरी युद्ध में) विजयी हुए या नहीं ….हम अपने आंतरिक वृतियों से विजई हुए या नहीं | आंतरिक युद्ध जो कि हम हर दिन लड़ते हैं हर क्षण लड़ते हैं | साहसी होने का मतलब जब आंतरिक युद्ध सामने आया तब हममें इतनी इच्छा उत्पन्न हुई कि हम उस युद्ध को करने का साहस जुटा पाए |  सरल से  उदाहरण में “तब जब कड़ाके की ठंड हो तो हम स्नान